Home / Hindi Status / Relationship Status in Hindi for Whatsapp, Relationship Whatsapp Status

Relationship Status in Hindi for Whatsapp, Relationship Whatsapp Status

1. “रिश्ते कभी जिंदगी के साथ साथ नहीं चलते रिश्ते एक बार बनते हैं और फिर जिंदगी रिश्तों के साथ साथ चलती है।”

2. “जीत की आदत अच्छी होती है लेकिन कुछ रिश्तों में हार जाना बेहतर होता है।”

3. “दुनिया का सबसे बेहतरीन रिश्ता वही होता है जहाँ एक हलकी सी मुस्कुराहट और छोटी सी माफ़ी से जिंदगी पहले जैसी हो जाती है।”

4. “कुछ रिश्तों में इंसान अच्छा लगता है और कुछ इंसानों से रिश्ता अच्छा लगता है।”

5. “अकसर वही रिश्ता लाजवाब होता है, जो ज़माने से नहीं ज़ज़्बातों से जन्मा होता है।”

6. “रिश्ते कभी जिंदगी के साथ साथ नहीं चलते, रिश्ते एक बार बनते हैं, फिर जिंदगी रिश्तों के साथ साथ चलती है।”

7. “रिश्ते और रास्ते एक ही सिक्के के दो पहलू हैं, कभी रिश्ते निभाते निभाते रास्ते खो जाते हैं, और कभी रास्ते पर चलते चलते रिश्ते बन जाते हैं।”

8. “कुछ मीठे पल याद आते हैं, पलकों पर आँसू छोड़ जाते हैं, कल कोई और मिल जाये तो हमें न भूलना क्योंकि कुछ रिश्ते उम्र भर काम आते हैं।”

9. “जीवन में ज़ख़्म बड़े नहीं होते, उनको भरने वाले बड़े होते हैं, रिश्ते बड़े नहीं होते लेकिन उनको निभाने वाले लोग बड़े होते हैं।”

10. “किसी को पलकों में ना बसाओ क्योंकि पलकों में सिर्फ सपने बसते हैं अगर बसाना है तो दिल में बसाओ क्योंकि दिल में सिर्फ अपने बसते हैं।”

11. “Agar Bichhadana Nahi Chaahte Ho Toh, Khud Par Bharosa Karna Seekh Lo, Kyonki Sahaare Kitne Bhi Mazboot Ho, Kabhi Na Kabhi Toh Sath Chhod Jaate Hain!”

12. “Pata Nahi Kis Ka Tha Vo Sakhsh kabhi Mera Hune ka Dava karta Tha.”

13. “Sun Raha Hain Na Tu Roraha Hun Main.”

14. “Jara Tu Sharm Kari Tu Muhabbat Chup Chup Ke or Nafrat Sare Aam.”

15. “Suno Na Hum Pr Muhabbat Nahi Aate Tu Kya Hua, Rahem Tu Aata Huga.”

16. “Usne Kaha Tha Aankh Dharke Dekha karo, Ab Aankh Dhar Aate Hain, Pr Vo Najar Nahi!”

17. “Ab Nind Se koi Vasta Nahi Mera, Kon Hain Ye soch soch kar Raat Gujar Jati he.”

18. “Sanso Ka Tutjana Tu Aam Bat Hain, jaha apne badal jate Hain tu Mout aate hain!”

19. “Meri Koshish Hamesha Nakam Rahi Pehle Tuje Pane me, Or ab Bhoolane Main!”

20. “Ham Ne Usdin se Tumhe or Chaha he, Jab pata chala tum hamari huna nahi Chahti.”

21. “रिश्तों की सिलाई अगर भावनाओं से हुई है, तो टूटना मुश्किल है और अगर स्वार्थ से हुई है, तो टिकना मुश्किल है।”

22. “रिश्ते और पौधे दोनों एक जैसे होते हैं, लगाकर भूल जाओ तो दोनों ही सूख जाते हैं।”

23. “अपने रिश्तों को बारिश की तरह न बनाये, जो आये और चली जाये बल्कि रिश्ते ऐसे बनाये जो हवा की तरह हमेशा आपके अंग संग रहें।”

24. “सच बोलता हूँ तो रिश्ते टूट जाते हैं, झूठ कहता हूँ तो खुद टूट जाता हूँ।”

25. “रिश्ते एहसास के होते हैं, अगर एहसास हो तो अजनबी भी अपने अगर एहसास न हो तो अपने भी अजनबी होते हैं।”

26. “कुछ मीठे पल याद आते हैं, पलकों पर आँसू छोड़ जाते हैं, कल कोई और मिल जाये तो हमें न भूलना क्योंकि कुछ रिश्ते उम्र भर काम आते हैं।”

27. “कदर करनी है तो जीते जी करो अर्थी उठाते वक़्त तो नफरत करने वाले भी रो पड़ते हैं।”

28. “लगे न नज़र इस रिश्ते को ज़माने की पड़े न ज़रुरत कभी एक-दूजे को मनाने की छोड़ना न कभी आप हमारा ये साथ तमन्ना हमारी भी है इसे मौत तक निभाने की।”

29. “दिमाग पर ज़ोर लगाकर गिनते हो गलतियां मेरी कभी दिल पर हाथ रख के पूछना कसूर किसका है।”

30. “हर रिश्ते में मिलावट देखी कच्चे रंगों की सजावट देखी लेकिन सालों-साल देखा है माँ को उसके चेहरे पे ना कभी थकावट देखी ना ममता में कभी कोई मिलावट देखी।”

31. “नहीं मिला कोई तुम जैसा आज तक, पर ये सितम अलग है की मिले तुम भी नही.”

32. “खुदको मेरे दिल में ही छोड़ गई हो, तुझे तो ठीक से बिछड़ना भी नहीं आया.”

33. “सुना है आज उस की आँखों मे आसु आ गये, वो बच्चो को सिखा रही थी की मोहब्बत ऐसे लिखते है.”

34. “मौत जीवन का अंत करती है रिश्तो का नही!”

35. “टूटे मक़ान वाला, दिल में ताजमहल रखता हूँ, बात गहरी मगर अल्फ़ाज़ सरल रखता हूँ.”

36. “रिश्ते ऐसे बनाओ जिसमे शब्द कम और प्यार ज़्यादा हो!”

37. “जिस “चाँद” के हजारों हो चाहने वाले दोस्त, वो क्या समझेगा एक सितारे कि कमी को.”

38. “भूख रिश्तो को भी लगती है कभी प्यार परोस के तो देखिए!”

39. “तुमको बहार समझ कर, जीना चाहता था उम्र भर, भूल गया था की मौसम तो बदल जाते हैं.”

40. “ये भी एक तमाशा है, इश्क और मोहब्बत में, दिल किसी का होता है और बस किसी का चलता है.”

41. “करीब इतना रहो कि सब रिश्तों में प्यार रहे दूर भी इतना रहो कि आने का इंतज़ार रहे रखो उम्मीद रिश्तों के दरमियान इतनी कि टूट जाये उम्मीद मगर रिश्ते बरक़रार रहें।”

42. “अगर कुछ सीखना है तो आँखों को पढ़ना सीख लो वरना लफ़्ज़ों के मतलब तो हज़ारों निकलते हैं।”

43. “जो कोई समझ न सके वो बात हैं हम जो ढल के नयी सुबह लाये वो रात हैं हम छोड़ देते हैं लोग रिश्ते बनाकर जो कभी न छूटे वो साथ हैं हम।”

44. “करीब इतना रहो कि रिश्तों में प्यार रहे दूर भी इतना रहो कि आने का इंतज़ार रहे रखो उम्मीद रिश्तों के दरमियान इतनी कि टूट जाये उम्मीद मगर रिश्ते बरक़रार रहें।”

45. “कोशिश करो कि कोई तुम से ना रूठे ज़िंदगी में अपनों का कभी साथ ना छूटे रिश्ता कोई भी हो उसे ऐसे निभाओ कि उस रिश्ते की डोर ज़िंदगी भर ना टूटे।”

46. “दो चार लोगों से रिश्ते बनाये रखिये कब्र तक लाश को दौलत नहीं ले जाया करती।”

47. “यादें अक्सर होती हैं सताने के लिए कोई रूठ जाता है फिर मान जाने के लिए रिश्ते निभाना कोई मुश्किल तो नहीं बस दिलों में प्यार चाहिए उसे निभाने के लिए।”

48. “रिश्ते काँच की तरह होते हैं टूटे जाए तो चुभते हैं इन्हे संभालकर हथेली पर सजाना क्योंकि इन्हें टूटने मे एक पल और बनाने मे बरसो लग जाते हैँ।”

49. “रिश्तों में सदा प्यार की मिठास रहे कभी न मिटने वाला एक एहसास रहे कहने को तो छोटी सी है यह जिंदगी मगर दुआ है कि सदा आपका साथ रहे।”

50. “कुछ रिश्ते अनजाने में बन जाते हैं पहले दिल से फिर ज़िंदगी से जुड़ जाते हैं क्या कहते हैं उस दौर को जिसमे अनजाने न जाने कब अपने बन जाते हैं।”

51. “ज़िंदगी नहीं हमें ये रिश्ता है प्यारा रिश्तों के प्यार से ही खिलता है दिल हमारा आँखों में हमारी आँसू है तो क्या गम है इस बात की ख़ुशी है कि मुस्कुरा रहा है कोई जान से प्यारा।”

52. “छोटी सी बात पे लोग रूठ जाते हैं हाथ उनसे अनजाने में छूट जाते हैं कहते हैं बड़ा नाज़ुक है अपनेपन का रिश्ता इसमें हँसते-हँसते भी दिल टूट जाते हैं।”

53. “दिल से बने रिश्तों का नाम नहीं होता इनका कभी भी निरर्थक अंजाम नहीं होता अगर निभाने का हो जज्बा दोनों तरफ तो ये पाक रिश्ता कभी बदनाम नहीं होता।”

54. “दूर हो जाने से रिश्ते नहीं टूटते न ही सिर्फ पास रहने से जुड़ते हैं ये तो दिलों के बंधन हैं इसलिए हम तुम्हें और तुम हमें नहीं भूलते।”

55. “रिश्ते काँच की तरह होते हैं टूट जाएं तो चुभते हैं इन्हे संभालकर हथेली पर सजाना क्योंकि इन्हें टूटने मे एक पल और बनाने मे बरसो लग जाते हैँ।”

56. “रिश्ते खून के नहीं होते, रिश्ते एहसास के होते हैं अगर एहसास हो तो अजनबी भी अपने होते हैं और अगर एहसास ना हो तो अपने भी अजनबी हो जाते हैं।”

57. “इस शहर में हमारा कौन हैं हर कोई अपनों से बेगाना क्यों हैं सब तरफ फैली मायूसी, बेबसी, तन्हाई यहाँ दिल का सहारा कौन हैं।”

58. “फूल इसलिए अच्छे, कि खुश्बू का पैगाम देते हैं, कांटे इसलिए अच्छे, कि दामन थाम लेते हैं दोस्त इसलिए अच्छे, कि वो मुझ पर जान देते हैं और दुश्मनों को, कैसे ख़राब कह दूँ वो ही तो हैं जो हर महफ़िल में मेरा नाम लेते हैं।”

59. “कोशिश करो कि कोई तुमसे ना रुठे जिंदगी में अपनो का साथ ना छूटे रिश्ता कोई भी हो उसे ऐसा निभाओ कि उस रिश्ते की डोर जिंदगी भर ना टूटे।”

60. “लोग झूठ कहते हैं कि दीवारों में दरारें पड़ती हैं, हक़ीक़त तो यह है कि जब रिश्तों में दरारें पड़ती हैं तब दीवारें बनती हैं।”

61. “दिल के रिश्ते का कोई नाम नहीं होता हर रास्ते का मुक़ाम नहीं होता अगर निभाने की चाहत हो दोनों तरफ तो क़सम से कोई रिश्ता नाक़ाम नही होता।”

62. “खामोश चेहरे पर हज़ारों पहरे होते हैं हँसती आँखों में भी ज़ख़्म गहरे होते हैं जिनसे अक्सर रूठ जाते हैं हम असल में उनसे ही तो रिश्ते और गहरे होते हैं।”

63. “मशहूर होना पर कभी मगरूर न होना कामयाबी के नशे में कभी चूर न होना अगर मिल भी जाये सारी कायनात आपको अपनों से फिर भी कभी दूर न होना।”

64. “कुछ रिश्ते इस जहान में ख़ास होते हैं हवा के रुख से जिन के एहसास होते हैं यह दिल की कशिश नहीं तो और क्या हैं दूर रह कर भी वो दिल के कितने पास होते हैं।”

65. “साथ नहीं रहने से रिश्ते नहीं टूटा करते वक़्त की धुंध से रिश्ते नहीं छूटा करते लोग कहते हैं कि मेरा सपना टूट गया टूटती है नींद कभी सपने नहीं टूटा करते!”

66. “यादें अक्सर होती हैं सताने के लिए कोई रूठ जाता है फिर मान जाने के लिए रिश्ते निभाना कोई मुश्किल तो नहीं बस दिलों में प्यार चाहिए उसे निभाने के लिए।”

67. “करीब इतना रहो कि रिश्तों में प्यार रहे दूर भी इतना रहो कि आने का इंतजार रहे रखो उम्मीद रिश्तों के दरमियां इतनी कि टूटे उम्मीद मगर रिश्ता बरकरार रहे।”

68. “रिश्तों का विश्वास टूट ना जाये दोस्ती का साथ कभी छूट ना जाये ऐ खुदा गलती करने से पहले संभाल लेना मुझे कहीं मेरी गलती से मेरा कोई अपना रूठ ना जाये।”

69. “प्यार चीज़ नहीं जताने की हमें आदत नहीं किसी को भुलाने की हम इसलिए कम मिलते हैं आपसे क्योंकि कुछ रिश्तों को नज़र लग जाती है ज़माने की।”

70. “रिश्तों की ही दुनिया में अक्सर ऐसा होता है, दिल से इन्हें निभाने वाला ही अक्सर रोता है, झुकना पड़े तो झुक जाना अपनों के लिए क्योंकि हर रिश्ता एक नाज़ुक समझौता होता है।”

71. “कुछ रिश्ते उपरवाला बनाता है कुछ रिश्ते लोग बनाते हैं पर वो लोग बहुत खास होते हैं जो बिना रिश्ते के कोई रिश्ता निभाते हैं।”

72. “मशहूर होना लेकिन कभी मगरूर मत होना छू लो कदम कामयाबी के लेकिन अपनों से कभी दूर मत होना ज़िन्दगी में खूब मिल जाएगी दौलत और शौहरत मगर अपने ही आखिर अपने होते हैं यह बात कभी भूल ना जाना।”

73. “छोटी सी बात पे लोग रूठ जाते हैं, हाथ उनसे अनजाने में छूट जाते हैं, कहते हैं बड़ा नाज़ुक है अपनेपन का यह रिश्ता इसमें हँसते-हँसते भी दिल टूट जाते हैं।”

74. “खूबसूरत सा एक पल किस्सा बन जाता है जाने कब कौन ज़िंदगी का हिस्सा बन जाता है कुछ लोग ज़िंदगी में मिलते हैं ऐसे जिनसे कभी ना टूटने वाला रिश्ता बन जाता है।”

75. “यादें अक्सर होती हैं सताने के लिए कोई रूठ जाता है फिर मान जाने के लिए रिश्ते निभाना कोई मुश्किल तो नहीं, बस दिलों में प्यार चाहिए उन्हें निभाने के लिए।”

76. “लोग अक्सर कहते हैं, “I need a break.” मगर ब्रेक चाहिए कहाँ? ज़ुबान पर? पैरों पर? दिमाग़ पर? या रिश्तों पर?”

77. “स्वार्थ से रिश्ते बनाने की कितनी भी कोशिश करो यह बनेगा नहीं, और प्यार से बने रिश्ते को तोड़ने की कितनी भी कोशिश करो यह टूटेगा नहीं।”

78. “रिश्ते वो होते हैं, जिसमे शब्द कम और समझ ज्यादा हो जिसमे तकरार कम और प्यार ज्यादा हो जिसमे आशा कम और विश्वास ज्यादा हो।”

79. “साथ रहते-रहते यूँ ही वक़्त गुजर जायेगा दूर होने के बाद कौन किसे याद आएगा जी ले ये पल जब हम साथ हैं, कल का क्या पता वक़्त कहाँ ले जायेगा।”

80. “रिश्ते काँच की तरह होते हैं टूटे जाए तो चुभते हैं इन्हे संभालकर हथेली पर सजाना क्योंकि इन्हें टूटने मे एक पल और बनाने मे बरसो लग जाते हैं।”

81. “कुछ खूबसूरत पल याद आते हैं पलकों पर आँसू छोड जाते हैं कल कोई और मिले तो हमें ना भूलना क्योंकि कुछ रिश्ते जिंदगी भर याद आते हैं।”

82. “दौलत की भूख ऐसी थी कि कमाने निकल गए दौलत मिली तो हाथ से रिश्ते निकल गए बच्चों के साथ रहने की फुर्सत ना मिल सकी और जब फुर्सत मिली तो बच्चे खुद ही दौलत कमाने निकल गए।”

83. “जो कोई समझ न सके वो बात हैं हम जो ढल के नयी सुबह लाये वो रात हैं हम छोड़ देते हैं लोग रिश्ते बनाकर जो कभी न छूटे वो साथ हैं हम।”

84. “यहाँ कौन किसका रकीब होता है कौन किसका हबीब होता है बन जाते हैं रिश्ते इस दुनिया में जहाँ जहाँ जिसका नसीब होता है।”

85. “कोई टूटे तो उसे सजाना सीखो कोई रूठे तो उसे मनाना सीखो रिश्ते तो मिलते हैं मुक़द्दर से बस उन्हें ख़ूबसूरती से निभाना सीखो।”

86. “बिना विश्वास का रिश्ता बिना नेटवर्क के मोबाइल जैसा है क्योंकि बिना नेटवर्क वाले मोबाइल के साथ लोग सिर्फ “Game” ही खेलते हैं।”

87. “हर रिश्ते में मिलावट देखी कच्चे रंगों की सजावट देखी लेकिन सालों साल देखा है माँ को उसके चेहरे पे ना थकावट देखी ना ममता में कभी मिलावट देखी।”

88. “पानी से तस्वीर कहाँ बनती है ख्वाबों से तकदीर कहाँ बनती है किसी भी रिश्ते को सच्चे दिल से निभाओ क्योंकि ये ज़िन्दगी फिर वापस कहाँ मिलती है।”

89. “कोई टूटे तो उसे बनाना सीखो कोई रूठे तो उसे मनाना सीखो रिश्ते तो मिलते हैं मुक़द्दर से बस उन्हें ख़ूबसूरती से निभाना सीखो।”

90. “जख्म जब मेरे सीने के भर जायेंगें, आसूं भी मोती बन कर बिखर जायेंगें ये मत पूछना किस-किस ने धोखा दिया, वर्ना कुछ अपनों के चेहरे उतर जायेंगें।”

91. “अपने रिश्तों को बारिश की तरह न बनाये, जो आये और चली जाये, बल्कि रिश्ते ऐसे बनाये जो हवा की तरह हमेशा आपके अंग संग रहें।”

92. “दूर हो जाने से रिश्ते नहीं टूटते न ही सिर्फ पास रहने से जुड़ते हैं ये तो दिलों के बंधन हैं इसलिए हम तुम्हें और तुम हमें नहीं भूलते।”

93. “रिश्तों की ही दुनिया में अक्सर ऐसा होता है दिल से इन्हें निभाने वाला ही रोता है झुकना पड़े तो झुक जाना अपनों के लिए क्योंकि हर रिश्ता एक नाजुक समझौता होता है।”

94. “ना छुपाना कोई बात दिल में हो अगर रखना थोड़ा भरोसा हम पर हम निभाएंगे प्यार का यह रिश्ता इस कदर कि भुलाने पर भी ना भुला पाओगे हमें ज़िंदगी भर।”

95. “नहीं बन जाता कोई अपना यूँ हीं दिल लगाने से करनी पड़ती है दुआ रब से किसी को पाने में रखना संभाल कर ये रिश्ते अपने टूट ना जायें ये किसी के बहकाने से।”

96. “रिश्तों में सदा प्यार की मिठास रहे कभी न मिटने वाला एक एहसास रहे कहने को तो छोटी सी है यह जिंदगी मगर दुआ है कि सदा आपका साथ रहे।”

97. “लोग रिश्ते बना कर यूँ तोड़ जाते हैं बेवजह हमसे यूँ ही रूठ जाते हैं मिलने पर राह में अजनबी कहते हैं लगता है शायद यही दुनिया का दस्तूर कहलाता है।”

98. “खूबसूरत सा एक पल किस्सा बन जाता है, जाने कब कौन ज़िंदगी का हिस्सा बन जाता है, कुछ लोग ज़िंदगी में मिलते हैं ऐसे, जिनसे कभी ना टूटने वाला रिश्ता बन जाता है।”

99. “रिश्ते इलेक्ट्रिक करंट की तरह होते हैं, गलत जुड़ जायें तो ज़िन्दगी भर झटके देते हैं, और अगर सही जुड़ जायें तो आपका पूरा जीवन प्रकाशमान कर देते हैं।”

100. “मैंने रिश्तों को संभाला है मोतियों की तरह कोई गिर भी जाये तो झुक कर उठा लेता हूँ।”

Check Also

Anniversary Status in Hindi for Whatsapp, Anniversary Whatsapp Status

1. “पल-पल तरसे थे जिस पल के लिए, वो पल भी आया कुछ पल के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *